Objective Structured Clinical Examination (OSCE) In Hindi

OSCE
Objective Structured Clinical Examination (OSCE)

Observation structured clinical examination (OSCE) क्या है?

Objective Structured Clinical Examination (OSCE) एक प्रकार की परीक्षा(examination) है जिसका उपयोग अक्सर स्वास्थ्य विज्ञान(health science) (जैसे medicine, pharmacy, osteopathy, physical therapy, आदि) में किया जाता है ताकि मेडिकल स्टूडेंट्स में नैदानिक क्षमता(clinical competence) (जैसे communication, clinical examinitation, medical & nursing procedures) का आकलन(assessment/evaluatiom) किया जा सके।

# DEFINITION OF OSCE

OSCE स्टूडेंट्स की नैदानिक ​​क्षमता(clinical competence) को मापने के लिए उपयोग किए जाने वाले प्रदर्शन-आधारित परीक्षण(performance based testing) का एक रूप है। OSCE के दौरान स्टूडेंट्स को कई stations की series से होकर गुजरना होता है और अपनी clinical skills का प्रदर्शन करना होता है जिसके आधार पर उनका अवलोकन (observation) और मूल्यांकन(evaluation) किया जाता है।

# ORGANIZATION OF OSCE

  • OSCE परीक्षा में students को 10-15 stations से होकर गुजरना होता है और प्रत्येक स्टेशन पर 4-5 मिनट तक ठहरना होता है। लेकिन मूल्यांकन(evaluation) की आवश्यकता के अनुसार stations की संख्या और समय की मात्रा परिवर्तित की जा सकती है।
Objective Structured Clinical Examination
OSCE Stations
  • कुछ स्टेशन्स को procedure stations कहा जाता है जहाँ students को रोगियों(patients) या सिमुलेटरों(simulators) पर प्रदर्शन(perform) करने के लिए कार्य दिए जाते हैं। ऐसे सभी स्टेशनों पर पर्यवेक्षक(observers) होते है जो Checklist या Rating scale के माध्यम से students को score देते है।
  • जबकि बाकी के स्टेशन्स को response stations कहा जाता है जहाँ स्टूडेंट्स को कुछ objective questions के जवाब देने होते है।
  • सभी stations पर परीक्षा (examination) की समय सीमा एक समान ही होनी चाहिये।
  • Station पर परीक्षा की समय सीमा और एक station से दूसरे station पर जाने के निर्देश एक signal द्वारा दिया जाता है।
  • सभी stations एक-दूसरे से स्वतंत्र होते है अर्थात student किसी भी stations से अपने परीक्षा की शुरआत कर सकता है। यानी स्टूडेंट्स station-1 से शुरुआत ना करके किसी भी दूसरे station से शुरआत कर सकता है।
  • प्रत्येक station को student की नैदानिक दक्षता(clinical competence) के लिए डिज़ाइन किया जाता है।
यह भी पढ़े: Rating Scale हिन्दी में

# USES OF OSCE

OSCE का उपयोग medical students की नैदानिक ​​दक्षताओं(clinical competence) का आकलन(evaluation/assessment) करने के लिए किया जा सकता है।
Examples of objective structured clinical examination
Examples of OSCE

आमतौर पर, OSCE का उपयोग करके निम्न practical skills आकलन नर्सिंग में किया जाता है:
  • Interpersonal and communication skills 
  • History-taking skills 
  • Physical examination of specific body systems 
  • Mental health assessment 
  • Clinical decision making, including the formation of differential diagnosis 
  • Clinical problem-solving skills 
  • Interpretation of clinical findings and investigations 
  • Management of a clinical situation, including treatment and referral 
  • Patient education 
  • Health promotion 
  • Acting safely and appropriately in an urgent clinical situation 
  • Basic and advanced nursing care procedure practices.

# ADVANTAGES OF OSCE

  • इससे students में करके सीखने की क्षमता(learning by doing) का विकास होता है।
  • इससे students में clinical skills का विकास होता है।
  • परीक्षक(examiners) पहले से तय कर सकते हैं कि क्या परीक्षण(test) किया जाना है और फिर उन skills का परीक्षण करने के लिए परीक्षा(exam) को डिजाइन कर सकते हैं। 
  • Examiner, exam के content और complexities पर बेहतर नियंत्रण रख सकते हैं। 
  • Examiner द्वारा checklist और rating scale के उपयोग से स्टूडेंट्स के परिणाम(result) का सटीकता से आकलन(evaluation) होता है।
  • OSCE का उपयोग बड़ी संख्या में students पर किया जा सकता है।
.
Older Posts
Newer Posts
Dev chaudhary
Dev chaudhary I'm Dev and I am 22 year old. I provide you amazing articles related to nursing and recreation. Medicaldudes.com

Post a Comment

Ads Single Post 4

Ad-Blocker Detected!

Sorry, we have detcected that you have activated Adblocker.

please consider supporting us by Turning off your adblock to be able to access this site.

Thank you !