Osteoporosis: Definition, Risk Factors, Diagnosis and More (in hindi)

osteoporotic bone

What is osteoporosis? (ऑस्टियोपोरोसिस क्या है?)

  • Osteoporosis (ऑस्टियोपोरोसिस) एक प्रकार का हड्डी रोग(bone disease) है, जिससे हड्डी के फ्रैक्चर (bone fractureका ख़तरा बढ़ जाता है।
  • Osteoporosis में हड्डी के अंदर का मैट्रिक्स (matrix) कम हो जाता है और हड्डी कमजोर हो जाती है जिससे हल्के से तनाव(tension) या दबाव(compression) से हड्डी के टूटने की संभावनाएं बढ़ जाती है।
  • Osteoporosis सभी प्रजाति के महिलाओं व पुरुषों में देखने को मिलता है लेकिन महिलाओं में menopause (complete stop of menstrual cycle) के बाद सामान्य रूप से देखने को मिलता है।  

# DEFINITION OF OSTEOPOROSIS (परिभाषा)

एक ऐसी स्थिति जिसमें हड्डियां कमजोर (weak) और भंगुर (brittle) हो जाती हैं।


# RISK FACTORS OF OSTEOPOROSIS (ऑस्टियोपोरोसिस के जोखिम कारक)

इन्हें दो भागो में बांटा जा सकता है:

1. Nonmodifiable (अपरिवर्तनीय)

  • Harmone (हार्मोन): महिलाओं में menopause के बाद एस्ट्रोजन हार्मोन की कमी होने लगती है जिससे हड्डी के अंदर का मेट्रिक्स (matrix) कम होने लगता है। वही पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन की कमी से इसका बहुत कम असर पड़ता है।
  • Genetics (आनुवंशिकता): osteoporosis के एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में स्थानांतरित होने की संभावना 25-80 % (विकिपीडिया के अनुसार) तक हो सकती है।
  • RACE (प्रजाति): यूरोपीय और एशियाई लोगो में इस रोग के होने की संभावनाएं अधिक होती है।


2. MODIFIABLE (परिवर्तनीय)

  • Malnutrition (कुपोषण): विटामिन डी की कमी, कैल्शियम व फॉस्फोरस की कमी से हड्डी कमजोर होने लगती है।
  • Alcohol (शराब): कम मात्रा में शराब पीना शरीर के लिए फायदेमंद हो सकता है लेकिन इसका अधिक मात्रा में सेवन हड्डियों के कमजोरी का कारण बन सकता है।
  • Smoking (धूम्रपान): धूम्रपान osteoblast (हड्डी निर्माण करने वाली कोशिकाये) की एक्टिविटी को कम कर सकता है जिससे osteoporosis की संभावनाएं बढ़ सकती है।
  • Low body mass index (कम बॉडी मास इंडेक्स): पतले कम वजन वाले लोगो में ऑस्टियोपोरोसिस की संभावनाएं बढ़ जाती है।
  • Physical inactivity (शारीरिक निष्क्रियता): जो लोग रोजाना व्यायाम (exercise) नही करते और आरामदायक जीवन जीते है उन्हें ऑस्टियोपोरोसिस होने का खतरा बढ़ जाता है।
  • Cold drinks (कोल्ड ड्रिंक्स): एक study में पाया गया कि कोल्ड ड्रिंक्स में phosphoric acid (फॉस्फोरिक एसिड) होता है जो ऑस्टियोपोरोसिस के खतरे को बढ़ा सकता है।
यह भी पढ़े: सोरायसिस क्या हैं?


# PATHOPHYSIOLOGY OF OSTEOPOROSIS (ऑस्टियोपोरोसिस का रोग-जनन)

किसी भी रिस्क फैक्टर के कारण (Due to risk factor)
Osteoclast एक्टिविटी  >  Osteoblast एक्टिविटी 
हड्डी के मैट्रिक्स का क्षय (कम) होना 
हड्डी घनत्व (density) का कम होना
Osteoporosis का होना  


# ASSESSMENT/DIAGNOSIS OF OSTEOPSORIASIS (ऑस्टियोपोरोसिस का परीक्षण)

  • History & physical examination (शारीरिक परीक्षण) 
  • Serum calcium & phosphorus level: खून में उपस्थित कैल्शियम और फॉस्फोरस से स्तर की जांच की जाती है जिससे हड्डी के अपघटन (bone degradation) की मात्रा का पता चलता है।
  • Urine calcium excreation level (मूत्र कैल्शियम उत्सर्जन स्तर): यूरिन में उपस्थिति कैल्शियम की मात्रा का पता लगाना।
  • Dexa scan: यह ऑस्टियोपोरोसिस का पता लगाने का सबसे उपयुक्त तरीका है। इसका पूरा नाम ड्यूल एनर्जी एक्स-रे अब्सॉर्पटीओमेट्री है। यह एक विशेष प्रकार का x-ray है जो हड्डी के घनत्व (bone mass density) को मापता है।
  • Ultrasound (अल्ट्रासाउंड): इससे osteoporosis के शुरुआती समय के लक्षणों का पता लगाया जा सकता है।
  • C.T. Scan (कंप्यूटेड टोमोग्राफी): यह एक प्रकार की x-ray तकनीक है जो स्कैनर की सहायता से हड्डी के घनत्व (bone mass density) को मापता है।
यह भी पढ़े: Bone Fracture In Hindi


# SIGN & SYMPTOMS OF OSTEOPOROSIS (ऑस्टियोपोरोसिस के लक्षण)

common symptoms of osteoporosis

  • Pain in back & neck (पीठ व गर्दन में दर्द होना)
  • Loss of height (लम्बाई का कम हो जाना)
  • Vertebrae collapse (रीढ़ की हड्डी में झुकाव): रीढ़ की हड्डी में संकुचन के कारण पीठ के ऊपरी भाग में मामूली सा झुकाव आ जाता है जिसे Dowager's Hump कहते है।
  • Loose gums (मसूड़ों का ढीलापन)
  • Loss of girping power (पकड़ने की क्षमता में कमी) 


# MANAGEMENT OF OSTEOPOROSIS (ऑस्टियोपोरोसिस का उपचार)

1. MEDICAL MANAGEMENT

ऑस्टियोपोरोसिस के शुरआती समय में-
  • रोगी को पर्याप्त कैल्शियम युक्त भोजन करने की सलाह देना। 
  • रोगी को विटामिन डी लेने की सलाह देना। 
  • रोगी को वजन उठाने वाले व्यायाम (weight bearing exercise) करने की सलाह देना।  

2. PHARMACOLOGICAL MANAGEMENT

ऑस्टियोपोरोसिस के बढ़ते जोखिम से बचने के लिए कैल्शियम,विटामिन डी और बिस्फोस्फोनटे युक्त दवाये दी जाती है -
  • Calcium suppliments (कैल्शियम युक्त दवाये):  Caltrate, Citracal
  • Bisphosphonates (बिस्फोस्फोनेट): Alendronate, Risedronate, Zoledronic acid  

3. HARMONAL THERAPY

  • Estrogen therapy (एस्ट्रोजन थेरेपी): मीनोपॉज के बाद महिलाओ के शरीर में एस्ट्रोजन का निर्माण नहीं हो पाता है, तब महिलाओ में female hormon वाली दवाओं से इस हार्मोन का उत्पादन करवाया जा सकता है। 
  • Testosteron replecement therapy (टेस्टोस्टेरोन रिप्लेसमेंट थेरेपी): पुरुषो में टेस्टोस्टेरोन की कमी के कारण इस थेरेपी का सहारा लिया जाता है। क्योकि टेस्टोस्टेरोन की कमी भी कुछ हद तक ऑस्टियोपोरोसिस का कारण बन सकती है। 
  • Roloxifene therapy (रॉलिक्सिफेन थेरेपी): यह भी एस्ट्रोजन की तरह काम करता है। मीनोपॉज के बाद महिलाओ को ऑस्टियोपोरोसिस के खतरों से बचने के लिए दवा के रूप में दिया जाता है। 
Older Posts
Newer Posts
Dev chaudhary
Dev chaudhary I'm Dev and I am 22 year old. I provide you amazing articles related to nursing and recreation. Medicaldudes.com

1 comment

  1. NICE ARTICLE BROTHER
    READ SOME MY COOL ARTICLE ALSO
    HTTPS://WWW.AEXDROID.COM

    ReplyDelete

Ads Single Post 4

Ad-Blocker Detected!

Sorry, we have detcected that you have activated Adblocker.

please consider supporting us by Turning off your adblock to be able to access this site.

Thank you !